Rajesh Kumar Chandigarh

 

गुरिंदर आज़ाद

Rajesh Kumar Chandigarhराजेश कुमार आंबेडकर स्टूडेंट्स एसोसिएशन, पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ के चेयरमैन रह चुके हैं और आजकल वे ‘एसोसिएशन ऑफ़ वालंटियर्स फॉर स्टूडेंट्स राइट्स‘ के कन्वीनर हैं जो कि एक स्वयंसेवी संस्था है और विशेषतः अनुसूचित जाति से जुड़े और विद्यार्थियों के स्कालरशिप से वाबस्ता अधिकारों पर काम कर रही है. इन समस्याओं को बेहतर तरीके से समझने एवं सुलझाने की कोशिश के चलते वह एक टेलीफोन हेल्पलाइन चलाते हैं. 

पोस्ट मेट्रिक स्कालरशिप स्कीम में, जो कि एस.सी. और एस.टी. विद्यार्थियों के लिए एक केंद्रीय सरकार द्वारा संचालित योजना है, राजेश जी ने बहुत ज्यादा बड़ी कमियों को देखा. इस स्थिति का सीधा सम्बन्ध ब्राह्मणवाद से है. इन कमियों के चलते इस योजना का लाभ हमारे ज़रुरतमंद विद्यार्थियों को नहीं मिलता रहा है. राजेश जी और उनके साथियों ने इन कमियों के खिलाफ आवाज़ उठानी शुरू की. इसके काफी अच्छे नतीजे सामने आये. हालांकि यह बात भी अनुमानित ही थी कि सरकार आन्दोलन के हासिल को टिकने नहीं देगी और और नाकाबंदी करेगी. ऐसा हुआ भी.

राजेश जी का जाति विरुद्ध संघर्ष में पिछले बीस वर्ष का अनुभव है. उन्होंने कई गैर सरकारी संस्थाओं में ज़िम्मेदार ओहदों पर काम किया और बहुजन समाज, विशेषतः दलित समाज, पर होते अत्याचारों के विरुद्ध आवाज़ उठाने और जनता तक बात पहुँचाने में उनका अपना योगदान दिया.

इस साक्षात्कार में बहुजन समाज के मुद्दों से जुड़े अन्य पहलुओं पर भी बातचीत शामिल है. 

{youtube}x1QsT9Q9RlU{/youtube}

~~~

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *